टोरंटो, कनाडाई पुलिस ने रविवार को टोरंटो में अंधाधुंध फायरिग करने वाले की पहचान कर ली है। हमलावर पाकिस्तानी मूल का था। हमले में एक बच्ची समेत दो लोगों की मौत के साथ ही 13 लोग घायल हुए थे। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में हमलावर भी मारा गया था। बाद में हमले की जिम्मेदारी आइएस ने ली थी। कनाडा की सरकारी प्रसारण कंपनी सीबीसी न्यूज के मुताबिक फैसल हुसैन (29) नाम का यह व्यक्ति मानसिक रोग से पीड़ित था और एक किराना स्टोर में काम करता था। उधर, आइएस की प्रचार एजेंसी अमाक के मुताबिक हुसैन उसका ही एक लड़ाका था और सीरिया और इराक में गठबंधन सेनाओं द्वारा किए गए अत्याचार के खिलाफ उसने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। आतंरिक सुरक्षा मंत्री राल्फ गुडले ने बताया कि हमलावर के परिवार वालों ने बताया कि वे लोग मूलरूप से पाकिस्तान के रहने वाले हैं। फैसल घातक मानसिक बीमारी से पीड़ित था। तमाम इलाज के बाद भी उसे कोई आराम नहीं मिला। यह भी पता चला है कि आठ पहले हुसैन ने सबसे पहले अपने दोस्त आमिर सुखरेखा को अपनी बीमारी के बारे में बताया था। साथ ही कहा था कि उसका इलाज चल रहा है। एक अन्य मंत्री ने बताया कि हुसैन के संबंधों की छानबीन की जा रही है। वहीं गुडले ने हथियारों पर सख्ती पर विचार का आश्वासन दिया है।